Header Ads Widget

Responsive Advertisement

मां के जन्मदिन पर इमोशनल हुईं जान्हवी कपूर, लिखा, ''मुझे आप की याद आती है सब कुछ आपके लिए है-हमेशा, हर दिन, जानिये पूरी खबर

 

मां के जन्मदिन पर इमोशनल हुईं जान्हवी कपूर, लिखा, ''मुझे आप की याद आती है सब कुछ आपके लिए है-हमेशा, हर दिन, जानिये पूरी खबर 



आपको बता दे कि एक्ट्रेस जान्हवी कपूर ने अपनी दिवंगत मां श्रीदेवी के बर्थडे पर सोशल मीडिया पर उनकी याद में एक पुरानी फोटो शेयर करते हुए एक इमोशनल भी नोट लिखा और फोटो के कैप्शन में उन्होंने लिखा है, 'हैप्पी बर्थडे मम्मा। मुझे आप की याद आती है। 
इसके साथ ही सब कुछ आपके लिए है, जबकि हमेशा हर दिन। मैं आपसे प्यार करती हूं।" साथ ही उन्होंने एक दिल वाला इमोजी भी जोड़ा था। इसके साथ ही श्रीदेवी का 2018 में दुबई में एक फैमिली वेडिंग अटेंड करने के दौरान निधन हो गया था।


श्रीदेवी थीं जान्हवी के एक्ट्रेस बनने की बात को लेकर टेंशन में, जानिये पूरी खबर 

आपको बता दे कि जान्हवी ने आगे कहा है कि, "मां मेरे एक्ट्रेस बनने की बात को लेकर टेंशन में थीं, लेकिन पापा ने उन्हें इसके लिए मेंटली प्रिपेयर करने में मेरी बहुत मदद की जबकि पापा बहुत सपोर्टिव रहे और उनके बार-बार कहने की वजह से मां भी मान गईं।"


अब 'दोस्ताना 2' में नजर आएंगी जान्हवी

आपको बता दे कि फिल्म 'धड़क' के बाद, जान्हवी 'गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल' में नजर आईं, और इस साल की शुरुआत में हॉरर-कॉमेडी फिल्म 'रूही' में देखी गईं थी। जबकि मार्च में, उन्होंने 'गुड लक जेरी' का भी फिल्मांकन पूरा किया था। 


इसके साथ ही उन्हें 'दोस्ताना 2' के सेट पर वापस लौटना था लेकिन धर्मा प्रोडक्शंस द्वारा फिल्म को दोबारा बनाने की घोषणा के बाद इसमें देरी हो गई।


जान्हवी को डॉक्टर बनाना चाहती थीं श्रीदेवी जानिए सब कुछ 

इसके साथ ही जान्हवी ने श्रीदेवी के निधन के कुछ महीने बाद 2018 में फिल्म 'धड़क' से अपने एक्टिंग करियक की शुरुआत भी की थी जबकि जान्हवी ने उस समय के बारे में बात करते हुए एक इंटरव्यू में कहा था, "जब मैंने मां को बताया था कि मैं एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहती हूं तो हमारी कई बातें हुईं, 


वो काफी असमंजस में थीं मगर वो यह बात जानती थीं कि मुझे एक्टिंग का कीड़ा भी काट चुका है जबकि मैं छोटी थी तो मां हमेशा चाहती थीं कि मैं डॉक्टर बनूं लेकिन मैं मॉम को सॉरी बोलना चाहती हूं, क्योंकि मेरे अंदर डॉक्टर बनने लायक समझदारी नहीं थी।"

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ