Header Ads Widget

Responsive Advertisement

दिवंगत सरोज खान की बेटी सुकैना ने कहा की, उम्मीद है कि बायोपिक में मां के पेशे के प्रति सम्मान को भी दिखाया जाएगा जाने सब कुछ पूरी रिपोर्ट हिंदी में

 

दिवंगत सरोज खान की बेटी सुकैना ने कहा की, उम्मीद है कि बायोपिक में मां के पेशे के प्रति सम्मान को भी दिखाया जाएगा जाने सब कुछ पूरी रिपोर्ट हिंदी में 



आपकी जानकारी के लिए आपको बताते चले की दिवंगत कोरियोग्राफर सरोज खान की 3 जुलाई (शनिवार) को पहली डेथ एनिवर्सरी थी और फिर इस मौके पर भूषण कुमार ने घोषणा की थी कि उनकी प्रोडक्शन कंपनी टी-सीरीज सरोज खान पर एक बायोपिक भी बनाएगी। 

आपको बताते चले की सरोज खान की लाइफ पर बेस्ड इस फिल्म के लिए टी-सीरीज ने राइट्स भी हासिल कर लिए हैं और इतना ही नहीं फिल्म बनाने के लिए मेकर्स ने सरोज के बच्चों सुकैना और राजू खान से भी अनुमति ले ली है और फिर अब हाल ही में सरोज खान की बेटी सुकैना ने एक इंटरव्यू में कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि बायोपिक में उनकी मां के पेशे के प्रति सम्मान को ही दिखाया जाएगा।


आपको बताते चले की सुकैना खान ने कहा, "मेरी मां को पूरी इंडस्ट्री ने बहुत प्यार और सम्मान दिया लेकिन अब हमने उनके संघर्ष और लड़ाई को बहुत करीब से देखा है और जिसके बाद ही वे उस मुकाम तक पहुंची थीं। हमें उम्मीद करते है कि,


 अब इस बायोपिक के साथ भूषण जी उनकी कहानी, हमारे लिए उनका प्यार, डांस के प्रति उनके जुनून, अपने एक्टर्स के प्रति उनके प्यार और इस बायोपिक में उनके पेशे के प्रति सम्मान को भी दिखाने में सक्षम होंगे।"


क्या आप जानते हो की सरोज खान के डांस फॉर्म्स एक कहानी बयां करते हैं-


आपको बता दे की प्रोड्यूसर भूषण कुमार ने बायोपिक की अनाउंसमेंट करते हुए अपने बयान में कहा था की, "सरोज खान जी ने ना सिर्फ अपने डांस से एक्टर्स की परफॉर्मेंस को यादगार बनाया है और बल्कि हिंदी सिनेमा में कोरियोग्राफी में एक क्रांति लाई है और अब उनके डांस फॉर्म्स एक कहानी बयां करते हैं और फिर जो फिल्ममेकर के लिए बेहद मददगार होता है।


 आपको बताते चले की सरोज जी की जर्नी 3 साल की उम्र से शुरू हुई थी जिस दौरान उनका सामना कई उतार-चढ़ाव, इज्जत और सम्मान से भी हुआ और मुझे मुझे आज भी याद है, जब में अपने पिता के साथ फिल्म के सेट में जाया करता था,


 और फिर उन्हें अपनी कोरियोग्राफी से गानों में जान फूंकते देखता था जबकि उनकी लगन तो  सराहनीय  थी और फिर मुझे बेहद खुशी है कि सुकैना और राजू अपनी मां की बायोपिक बनाने के लिए राजी हो गए हैं और फिर आपको बता दे की बता दें कि, बायोपिक में सरोज खान की जिंदगी के उतार-चढ़ावों और उनके स्ट्रगल को भी दिखाया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ